AI News World India

Search
Close this search box.

8 प्रमुख उद्योगों (आईसीआई) के संयुक्त सूचकांक में मार्च 2023 की तुलना में मार्च 2024 में 5.2 प्रतिशत  की वृद्धि हुई

आठ प्रमुख उद्योगों (आईसीआई) का संयुक्त सूचकांक मार्च, 2023 के सूचकांक की तुलना में मार्च, 2024 में 5.2 प्रतिशत (अनंतिम) बढ़ गया। सीमेंट, कोयला, बिजली, प्राकृतिक गैस, इस्पात और कच्चे तेल के उत्पादन में मार्च 2024 में वृद्धि दर्ज की गयी। वार्षिक और मासिक सूचकांक और विकास दर का विवरण क्रमशः अनुलग्नक-I और अनुलग्नक-II में दिया गया है।

आईसीआई आठ प्रमुख उद्योगों- सीमेंट, कोयला, कच्चा तेल, बिजली, उर्वरक, प्राकृतिक गैस, परिष्कृत उत्पाद और इस्पात- के उत्पादन के संयुक्त और व्यक्तिगत प्रदर्शन को मापता है। आठ प्रमुख उद्योगों में, औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में शामिल वस्तुओं का 40.27 प्रतिशत हिस्सा, शामिल है।

दिसंबर 2023 के लिए आठ प्रमुख उद्योगों के सूचकांक की अंतिम वृद्धि दर को संशोधित कर 5 प्रतिशत कर दिया गया है। 2023-24 के दौरान आईसीआई की संचयी वृद्धि दर पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 7.5 प्रतिशत (अनंतिम) दर्ज की गई।

आठ प्रमुख उद्योगों के सूचकांक का सारांश नीचे दिया गया है:

सीमेंट – मार्च, 2023 की तुलना में मार्च, 2024 में सीमेंट उत्पादन (भारांक: 5.37 प्रतिशत) 10.6 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 9.1 प्रतिशत बढ़ गया।

कोयला – कोयला उत्पादन (भारांक: 10.33 प्रतिशत) मार्च, 2023 की तुलना में, मार्च 2024 में 8.7 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 11.7 प्रतिशत बढ़ गया।

कच्चा तेल – मार्च, 2024 में कच्चे तेल का उत्पादन (भारांक: 8.98 प्रतिशत) मार्च, 2023 की तुलना में 2 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 0.6 प्रतिशत बढ़ गया।

बिजली – बिजली उत्पादन (भारांक: 19.85 प्रतिशत) मार्च 2023 की तुलना में, मार्च 2024 में 8 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 7 प्रतिशत बढ़ गया।

उर्वरक – उर्वरक उत्पादन (भारांक: 2.63 प्रतिशत) मार्च, 2023 की तुलना में, मार्च 2024 में 1.3 प्रतिशत कम हो गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 3.7 प्रतिशत बढ़ गया।

प्राकृतिक गैस – मार्च, 2023 की तुलना में, मार्च 2024 में प्राकृतिक गैस का उत्पादन (भारांक: 6.88 प्रतिशत) 6.3 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 6.1 प्रतिशत बढ़ गया।

पेट्रोलियम परिष्कृत उत्पाद – पेट्रोलियम परिष्कृत उत्पादन (भारांक: 28.04 प्रतिशत) मार्च, 2024 में मार्च 2023 की तुलना में, 0.3 प्रतिशत कम हो गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 3.4 प्रतिशत बढ़ गया।

स्टील – स्टील उत्पादन (भारांक: 17.92 प्रतिशत) मार्च, 2023 की तुलना में, मार्च, 2024 में 5.5 प्रतिशत बढ़ गया। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में, 2023-24 के दौरान इसका संचयी सूचकांक 12.3 प्रतिशत बढ़ गया।

नोट 1: जनवरी 2024, फरवरी 2024 और मार्च 2024 के आंकड़े अनंतिम हैं। स्रोत एजेंसियों के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, प्रमुख उद्योगों की सूचकांक संख्याओं को संशोधित/अंतिम रूप दिया जाता है।

नोट 2: अप्रैल 2014 से, नवीकरणीय स्रोतों से बिजली उत्पादन आंकड़े भी शामिल हैं।

नोट 3: ऊपर बताए गए उद्योग-वार भार आईआईपी से प्राप्त अपने-अपने उद्योग भार हैं और आनुपातिक आधार पर 100 के बराबर आईसीआई के संयुक्त भार तक बढ़ाए गए हैं।

नोट 4: मार्च 2019 से, तैयार इस्पात के उत्पादन में ‘कोल्ड रोल्ड (सीआर) कॉइल्स’ आइटम के तहत, हॉट रोल्ड पिकल्ड एंड ऑयल्ड (एचआरपीओ) नामक एक नया इस्पात उत्पाद भी शामिल किया गया है।

नोट 5: अप्रैल, 2024 के लिए सूचकांक शुक्रवार 31 मई, 2024 को जारी किया जाएगा।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज