AI News World India

Search
Close this search box.

शुरुआती चार चरणों में 66.95 प्रतिशत मतदान हुआ

हैरान मत होइएगा अगर मौजूदा लोकसभा चुनाव के दौरान आपको मतदाताओं से वोट डालने की अपील करते हुए विख्‍यात क्रिकेट खिलाड़ी और ईसीआई के नेशनल आइकन सचिन तेंदुलकर का फोन आ जाए। मौजूदा चुनावों के दौरान ईसीआई ने मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए अपने आउटरीच प्रयासों के अंतर्गत मतदाताओं से वोट देने की अपील करने और उन्‍हें मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए विभिन्न प्रयासों की एक श्रृंखला शुरू की है। लोकसभा चुनाव 2024 में अब तक मतदान केंद्रों पर लगभग 66.95 प्रतिशत मतदान हुआ है, क्योंकि मौजूदा आम चुनावों के शुरुआती चार चरणों के दौरान लगभग 451 मिलियन लोगों ने मतदान किया है।

ईसीआई ने प्रत्येक पात्र मतदाता तक पहुंच कायम करने के लिए अपने लक्षित प्रयासों को बढ़ाया है। सीईसी श्री राजीव कुमार के नेतृत्व में आयोग ने ईसी श्री ज्ञानेश कुमार और श्री सुखबीर सिंह संधू के साथ 5वें, 6वें और 7वें चरण में मतदान वाले राज्यों के सीईओ को सभी मतदाताओं को समय पर मतदाता सूचना पर्चियां वितरित करने और आउटरीच गतिविधियों को बढ़ाने का निर्देश दिया है।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री राजीव कुमार ने कहा, “आयोग का दृढ़ विश्वास है कि साझेदारी और सहयोग मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के अनिवार्य स्तंभ हैं। वास्तव में यह खुशी की बात है कि आयोग के अनुरोध पर, विभिन्न संस्थान, प्रभावशाली व्यक्ति और महत्वपूर्ण पहुंच रखने वाली मशहूर हस्तियां कंधे से कंधा मिलाकर उत्साहपूर्वक काम कर रहे हैं। इसके अलावा, उन्होंने कहा, अधिक संख्या में मतदान, भारतीय मतदाताओं की ओर से दुनिया को भारतीय लोकतंत्र की ताकत के बारे में एक संदेश होगा। उन्होंने सभी मतदाताओं से आग्रह किया है कि वे लोकतंत्र के उत्सव में भाग लेकर भारी संख्या में मतदान करें, क्योंकि मतदान दिवस कोई छुट्टी का दिन नहीं, बल्कि गौरव का दिन है।

मतदाताओं की जागरूकता को लेकर हितधारकों द्वारा अनेक अभियान चलाए जा रहे हैं, जो इस प्रकार हैं:

1. भारत संचार निगम लिमिटेड, भारती एयरटेल लिमिटेड, जियो टेलीकम्युनिकेशन, वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड जैसे दूरसंचार सेवा प्रदाता मोबाइल उपयोगकर्ताओं को पुश एसएमएस/फ्लैश एसएमएस, आउटबाउंड डायलिंग कॉल, आरसीएस (रिच कम्युनिकेशन सर्विसेज) मैसेजिंग और व्हाट्सएप संदेश/अलर्ट के माध्यम से संबंधित संसदीय क्षेत्र के प्रत्येक मोबाइल उपयोगकर्ता तक पहुंच रहे हैं। ये गतिविधियां मतदान से दो/तीन दिन पहले और यहां तक कि मतदान के दिन भी क्षेत्रीय भाषाओं में वोट देने की अपील के साथ की जाती हैं।

2. आईपीएल मैचों के दौरान मतदाता जागरूकता: भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) ने मौजूदा आईपीएल सीजन के दौरान मतदाताओं की जागरूकता से जुड़ी गतिविधियों के लिए बीसीसीआई के साथ सहयोग किया है। क्रिकेट मैचों के दौरान विभिन्न स्टेडियमों में मतदाता जागरूकता संदेश और गाने बजाए जा रहे हैं। इस अभियान का सबसे नवीन पहलू आईपीएल के विभिन्न स्थानों पर पूर्व-रिकॉर्ड किए गए वीडियो संदेश में क्रिकेट के दिग्गज सचिन तेंदुलकर द्वारा मतदाताओं को संकल्प दिलाना है। इसके अलावा, मतदाता जागरूकता संदेशों को क्रिकेट कमेंट्री में शामिल किया गया है। 10 आईपीएल टीमों के क्रिकेटरों ने अपने रिकॉर्ड किए गए मतदाता जागरूकता संदेशों के साथ मतदाताओं को लोकसभा चुनाव 2024 में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया है।

3. आम चुनावों के बारे में मतदाताओं को सूचित करने व जागरूक करने और उन्हें लोकतंत्र के उत्सव में भाग लेने के लिए प्रेरित करने के लिए पूरे भारत में सभी फेसबुक उपयोगकर्ताओं को मतदान दिवस के बारे में सूचना भेजी गई थी।

4. मतदान के दिन व्हाट्सएप पर पर्सनलाइज्ड मैसेज भेजना शुरू हो गया है। गूगल इंडिया मतदान के दिनों में गूगल डूडल की अपनी प्रतिष्ठित सुविधा और यूट्यूब, गूगल पे और अन्य गूगल प्लेटफॉर्म पर प्रदर्शित होने वाले बैनरों के माध्यम से योगदान दे रहा है।

5. रिटेल एसोसिएशन ऑफ इंडिया अपने रिटेल नेटवर्क के माध्यम से मतदाताओं की जागरूकता से जुड़ी गतिविधियों में सक्रिय रूप से शामिल रहा है, जिससे रिटेल श्रृंखलाओं को चुनाव को उत्सव के रूप में मनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

6. देश भर में व्यापक और विविध दर्शकों तक पहुंचने के लिए ईसीआई द्वारा डाकघरों व बैंकिंग संस्थानों के विशाल नेटवर्क का इस्तेमाल किया गया।

ए.   डाक विभाग के पास 1.6 लाख से अधिक डाकघर और 1,000 एटीएम व 1,000 डिजिटल स्क्रीन हैं।

बी.  सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के बैंकिंग संस्थानों में 1.63 लाख से अधिक बैंक शाखाएं और 2.2 लाख एटीएम हैं।

  1. पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सहयोग से, संसदीय चुनाव अभियान के प्रतीक चिन्ह (लोगो) “चुनाव का पर्व, देश का गर्व” को आईआरसीटीसी के पोर्टल एवं टिकटों के साथ एकीकृत किया गया है।
  2. सभी रेलवे स्टेशनों पर मतदाता जागरूकता संबंधी उद्घोषणाओं को सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली में समाहित किया गया है। प्रतीक चिन्ह (लोगो) वाले स्टिकरों का उपयोग सुपरफास्ट ट्रेनों के कोचों में किया गया है।
  3. पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सहयोग से, लगभग 16,000 खुदरा दुकानों पर मतदाता जागरूकता संबंधी होर्डिंग्स लगाए गए हैं।
  4. नागर विमानन मंत्रालय के सहयोग से, एयरलाइंस कंपनियां आगामी चुनावों में भाग लेने की अपील वाले संदेश के साथ विमान के भीतर उद्घोषणाएं कर रही हैं। विमान की सीट की जेबों में मतदाता गाइड रखी जा रही हैं। इसके अलावा, कई हवाई अड्डे मतदाता जागरूकता संदेशों को प्रदर्शित करने के लिए जगह उपलब्ध करा रहे हैं। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद, लखनऊ, पटना, चंडीगढ़, पुणे जैसे 10 प्रमुख शहरों में हवाई अड्डों पर सेल्फी-प्वाइंट स्थापित किए गए हैं।
  5. सार्वजनिक सेवा जागरूकता (पीएसए) फिल्म के एक हिस्से के रूप में, देश भर के सिनेमाघर नियमित अंतराल पर ईसीआई की मतदाता जागरूकता फिल्में और ईसीआई के गीत ‘मैं भारत हूं’ व ‘हम भारत के मतदाता हैं’ को दिखा रहे हैं।

12. संसद टीवी अंतिम छोर तक मतदान सुनिश्चित करने के क्रम में आने वाली चुनौतियों को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से दुर्गम इलाकों की यात्रा के बाद चुनाव मशीनरी द्वारा देश के दूरदराज के इलाकों में स्थापित किए गए अनूठे मतदान केन्द्रों के बारे में लघु फिल्में बना रहा है।

13. अमूल, मदर डेयरी और अन्य दुग्ध सहकारी समितियों ने ‘चुनाव का पर्व, देश का गर्व’ के संदेश के साथ अपने दूध के पाउच की ब्रांडिंग शुरू कर दी है और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के जरिए मतदाताओं को प्रोत्साहित कर रहे हैं। अमूल अखबारों में अमूल गर्ल वाले सामयिक विज्ञापन के जरिए अपने अनूठे संदेश से भी मतदाताओं को प्रोत्साहित कर रहा है।

14. प्रसार भारती: दूरदर्शन ने देश के माननीय राष्ट्रपति, माननीय उपराष्ट्रपति और देश के मुख्य न्यायाधीश जैसे संवैधानिक पदाधिकारियों की अपील सहित कई लघु फिल्मों का निर्माण किया है। इसके अलावा, विशिष्ट मतदान केंद्रों को इसके दृश्य-श्रव्य दस्तावेजीकरण के लिए क्षेत्रीय केंद्रों द्वारा कवर किया जा रहा है।

15. म्यूजिक ऐप स्पॉटीफाई एक विशेष अभियान ‘प्ले योर पार्ट’ चला रहा है और उन्होंने प्रिंट विज्ञापन भी जारी किए हैं। इसके अलावा इस ऐप पर चुनावों के लिए प्लेलिस्ट तैयार की गई है।

16. बाइक ऐप रैपिडो मतदान सुनिश्चित करने के लिए मतदाताओं को मुफ्त यात्रा कराने के साथ प्रोत्साहित कर रहा है।

17. पेमेंट्स ऐप फोनपे ने अपने ऐप में मतदाता जागरूकता संदेश को जारी किया है और यह सक्रिय रूप से मतदाताओं को प्रोत्साहित भी कर रहा है।

18. ग्रोसरी ऐप ब्लिंकिट ने चुनावों के लिए अपना लोगो बदलकर “इंकिट” कर लिया, जिसमें टैगलाइन के रूप में लोगों को “बाहर जाओ और वोट करो” के लिए प्रोत्साहित करने वाला एक संदेश शामिल किया गया है।

19. बुक माय शो ऐप ने मतदाताओं के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए “आज पिक्चर नहीं, बड़ी पिक्चर देखो” नामक एक एकीकृत अभियान शुरू किया है।

20. मेक माय ट्रिप ऐप ‘माय वोट वाला ट्रिप’ नाम से एक अभियान चला रहा है, जिसके तहत मतदान के लिए जाने वाले नागरिकों को छूट की पेशकश की जा रही है।

21.    जोमैटो और स्विगी जैसी भोजन वितरण कंपनियां अपने प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया गतिविधियों के माध्यम से मतदाता जागरूकता संदेशों को प्रसारित कर रही हैं।

22.    टाटा समूह के समूह-व्यापी कंज्यूमर-फेसिंग मोबाइल एप के रूप में सेवारत टाटा नियू एप अतिरिक्त पहल के रूप में अपने होमपेज पर “कास्ट योर वोट” एनिमेटेड बैनर को प्रमुखता से प्रस्तुत कर रहा है।

23.   उबर इंडिया, मल्टी-चैनल मैसेजिंग (इन-एप, ई-मेल, पुश नोटिफिकेशन) के माध्यम से मतदाताओं तक मतदान को लेकर जागरूकता उत्पन्न कर रही है, मतदान केंद्रों तक सवारी के लिए छूट दे रही है और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर मतदाता जागरूकता संदेशों को प्रसारित कर रही है।

24.   अर्बन कंपनी ने मतदाताओं को प्रोत्साहित करने के लिए ‘आई हैव वोट कैंपेन’ (मैंने वोट दिया अभियान) की शुरुआत की है।

25.   ट्रूकॉलर आउटबाउंड कॉल के दौरान मतदाता जागरूकता संदेश प्रदर्शित करके अपने लेआउट को संवर्द्धित कर रहा है।

26.   कुछ अन्य स्वतंत्र पहलों में मैनकाइंड फार्मा का #VotingVirgin अभियान, परिधान ब्रांड नीरू का “वोट की तैयारी” टीवीसी, टिंडर का “एवरी सिंगल वोट काउंट” अभियान, जीवनसाथी.कॉम आदि वैवाहिक वेबसाइटों की ओर से रचनात्मक ढंग से तैयार की गई सोशल मीडिया पोस्ट और शॉपर्स स्टॉप, मेकमाईट्रिप, क्रोमा व कई अन्य लोकप्रिय ब्रांडों की ओर से मतदान के लिए छूट शामिल हैं।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज