AI News World India

Search
Close this search box.

भारतीय सिविल लेखा सेवा (आईसीएएस) के 48वें स्थापना दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में नागरिक लेखा दिवस 2024 का आयोजन किया गया

भारतीय सिविल लेखा सेवा (आईसीएएस) के 48वें स्थापना दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में नागरिक लेखा दिवस 2024 मनाया गया। केंद्रीय वित्त सचिव और वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग के सचिव डॉ. टी.वी. सोमनाथन ने मुख्य अतिथि के रूप में कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस अवसर पर भारतीय नागरिक लेखा संगठन (आईसीएओ) के विकास और उपलब्धियों पर एक लघु फिल्म भी दिखाई गई।
 इस अवसर पर वित्त सचिव ने केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की ओर से भेजा गया संदेश पढ़ा। अपने संदेश में वित्त मंत्री ने भारत सरकार के वित्तीय प्रशासन में क्रांति लाने में लेखा महानियंत्रक (सीजीए) के कार्यालय द्वारा कार्यान्वित सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (पीएफएमएस) द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका की तारीफ की। उन्होंने वास्तविक समय, विश्वसनीय और सार्थक प्रबंधन सूचना प्रणाली की सुविधा के लिए एक कुशल निधि प्रवाह तंत्र स्थापित करने के लिए पीएफएमएस को आधार बताया। वित्त मंत्री ने आगे कहा कि पीएफएमएस के माध्यम से सुगम प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) तंत्र से सरकार से लाभार्थियों को 34 लाख करोड़ रुपये का हस्तांतरण हुआ है। उन्होंने पेंशनभोगियों से संबंधित जानकारी और शिकायत निवारण तक आसान पहुंच के साथ 12 लाख से अधिक पेंशन भोगियों को सशक्त बनाने के लिए सीजीए के तहत केंद्रीय पेंशन लेखा कार्यालय (सीपीएओ) द्वारा कार्यान्वित दीर्घयु पेंशनभोगियों के मोबाइल ऐप जैसी पहल की भी सराहना की।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज