AI News World India

Search
Close this search box.

मंच कला क्षेत्र के छह प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों को अकादमी फेलो (अकादमी रत्न) के रूप में चुना गया

संगीत, नृत्य और नाट्य कला से संबंधित संगीत नाटक अकादमी, नई दिल्ली की जनरल काउंसिल, नेशनल ने 21 और 22 फरवरी 2024 को नई दिल्ली में आयोजित अपनी बैठक में सर्वसम्मति से मंच कला के क्षेत्र में छह (6) प्रतिष्ठित हस्तियों को अकादमी फेलो (अकादमी रत्न) के रूप में चुना है। अकादमी की फेलोशिप सबसे प्रतिष्ठित और अपूर्व सम्मान है। यह फेलोशिप किसी भी खास समय में 40 व्यक्तियों को दी जाती है।

जनरल काउंसिल ने वर्ष 2022 और 2023 के संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार (अकादमी पुरस्कार) के लिए संगीत, नृत्य, रंगमंच, पारंपरिक/लोक/जनजातीय संगीत/नृत्य/रंगमंच, कठपुतली और मंच कला में समग्र योगदान/छात्रवृत्ति के क्षेत्र से 92 कलाकारों का भी चयन किया।

इस प्रकार चुने गए फेलो और पुरस्कार विजेता समग्र रूप से राष्ट्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से आते हैं। इसके अतिरिक्त ये ख्याति प्राप्त कलाकार संगीत, नृत्य, नाटक, लोक और जनजातीय कला, कठपुतली और संबद्ध रंगमंच कला रूपों आदि के रूप में मंच कला रूपों के संपूर्ण रूप को कवर करते हैं।

अकादमी की जनरल काउंसिल ने वर्ष 2022 और 2023 के लिए संगीत नाटक अकादमी उस्ताद बिस्मिल्लाह खान युवा पुरस्कार के लिए 80 युवा कलाकारों का चयन भी किया है। उस्ताद बिस्मिल्लाह खान युवा पुरस्कार में ताम्रपत्र और अंगवस्त्रम के अतिरिक्त 25,000 रुपये (केवल पच्चीस हजार रुपये) की राशि प्रदान की जाती है। ये पुरस्कार संगीत नाटक अकादमी के अध्यक्ष द्वारा एक विशेष समारोह में प्रदान किए जाएंगे।

अकादमी पुरस्कार 1952 से दिए जा रहे हैं। ये सम्मान न केवल उत्कृष्टता और उपलब्धि के उच्चतम मानक के प्रतीक हैं, बल्कि निरंतर व्यक्तिगत कार्य और योगदान को भी मान्यता देते हैं। अकादमी फेलो के सम्मान में 3,00,000 रुपये (तीन लाख रुपये) की नकद राशि होती है, जबकि अकादमी पुरस्कार में ताम्रपत्र और अंगवस्त्रम के अतिरिक्त 1,00,000 रुपये (एक लाख रुपये) की नकद राशि होती है।

माननीय राष्ट्रपति द्वारा विशेष अलंकरण समारोह में संगीत नाटक अकादमी फेलोशिप और पुरस्कार दिए जाएंगे।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज