AI News World India

Search
Close this search box.

भारत टेक्स 2024 भारत का सबसे बड़ा वैश्विक कपड़ा मेगा कार्यक्रम होगा: वस्‍त्र सचिव

भारत मंडपम और यशोभूमि में दो स्थानों पर फैले 22 लाख वर्ग फुट से अधिक प्रदर्शनी क्षेत्र के साथ, 100 देशों के खरीदारों और 100 से अधिक अंतरराष्ट्रीय वक्ताओं की भागीदारी के साथ, भारत टेक्स देश का सबसे बड़ा वैश्विक कपड़ा कार्यक्रम बनने के लिए तैयार है। यह बात वस्‍त्र मंत्रालय की सचिव सुश्री रचना शाह ने आज नई दिल्ली में कही। 26 फरवरी, 2024 से शुरू होने वाले इस चार दिवसीय कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी करेंगे।

11 कपड़ा निर्यात संवर्धन परिषदों के एक संघ द्वारा आयोजित और वस्‍त्र मंत्रालय द्वारा समर्थित, भारत टेक्स व्यापार और निवेश के दोहरे स्तंभों एवं स्थिरता तथा लचीली आपूर्ति श्रृंखलाओं पर व्यापक ध्यान देते हुए तैयार किया गया है। यह चार दिवसीय कार्यक्रम परंपरा और प्रौद्योगिकी का मिश्रण होने का वादा करता है और नीति निर्माताओं और वैश्विक सीईओ के अलावा, 3,500 से अधिक प्रदर्शकों, 100 से अधिक देशों के 3,000 से अधिक खरीदारों और 50,000 से अधिक व्यापार आगंतुकों को आकर्षित करेगा। लगभग 22 लाख वर्ग फुट क्षेत्र में फैली और संपूर्ण कपड़ा मूल्य श्रृंखला को शामिल करने वाली यह प्रदर्शनी, भारत को कपड़ा क्षेत्र में एक वैश्विक शक्ति के रूप में स्थापित करने, अपनी क्षमताओं को प्रदर्शित करने और पूरे भारतीय कपड़ा इकोसिस्‍टम में गति पैदा करने में सहायता प्रदान करेगी।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी के 5एफ विजन से प्रेरित होकर इस कार्यक्रम का ‘एकीकृत फार्म टू फैशन फोकस’, संपूर्ण मूल्य श्रृंखला को कवर करता है।

सुश्री शाह ने बताया कि दो मिलियन वर्ग फुट से अधिक की प्रदर्शनी के साथ भारत टेक्स न केवल आकार में सबसे बड़ा आयोजन है, बल्कि यह पहला ऐसा आयोजन है जो दो स्थानों- भारत मंडपम और यशोभूमि पर एक साथ आयोजित किया जा रहा है और दोनों ही स्‍थल पूरी बुक हो गए हैं। इसके अलावा यह आयोजन पूरी तरह से एकीकृत है जिसमें संपूर्ण मूल्य श्रृंखला को प्रतिनिधित्व दिया जा रहा है।

भारत टेक्स प्रदर्शनी में परिधान, घरेलू सामान, फर्श कवरिंग, फाइबर, सूत, धागे, कपड़े, कालीन, रेशम, कपड़ा आधारित हस्तशिल्प, तकनीकी कपड़ा और बहुत कुछ शामिल हैं। इसमें भारत के फैशन खुदरा बाजार के अवसरों पर ध्यान केंद्रित करने वाला एक खुदरा हाई स्ट्रीट भी होगा। शो के अन्य आकर्षणों में स्थिरता और रीसाइक्लिंग पर समर्पित मंडप शामिल होंगे, जिसमें व्यक्तिगत उद्योग के साथ-साथ पानीपत, तिरुपुर और सूरत जैसे समूहों द्वारा किए गए वास्तविक काम को प्रदर्शित किया जाएगा और इसमें एक इंडी-हाट होगा जिसमें भारत के हस्तशिल्प और हथकरघा के पारंपरिक क्षेत्र का प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा 4 दिनों में भारतीय कपड़ा विरासत से लेकर स्थिरता और वैश्विक डिजाइन तक विविध विषयों पर 10 से अधिक फैशन शो आयोजित होंगे। भारत टेक्स में मास्टर कारीगरों द्वारा कला प्रदर्शन, इंटरैक्टिव फैब्रिक परीक्षण क्षेत्र और उत्पाद प्रदर्शन और वैश्विक फैशन रुझानों का प्रदर्शन भी शामिल होगा।

इसमें वैश्विक कपड़ा उद्योग के सामने आने वाले मुद्दों, चुनौतियों और भारत की ताकत पर विचार-विमर्श करने के लिए 350 वक्ताओं के साथ एक वैश्विक स्तर का सम्मेलन भी आयोजित होगा, जिसका लाभ इन मुद्दों के समाधान के लिए उठाया जा सकता है। सभी सत्रों में से 40 प्रतिशत से अधिक सत्र स्थिरता, लचीली मूल्य श्रृंखला और वैश्विक कपड़ा उद्योग में भारतीय कौशल के तीन स्तंभों पर केंद्रित होंगे। इनमें तीन कंट्री सत्र5 राज्य सत्र अवसरों, निवेश और व्‍यापार तथा कपड़ा उद्योग और फैक्‍ट्री के भविष्‍य को आकार देने वाली वैश्विक मेगा रुझानों पर ध्‍यान देते हुए एआई और ब्‍लॉक चैन आधारित स्‍मार्ट विनिर्माण पर आधारित होंगे।

इस कार्यक्रम में भारत के कपड़ा और परिधान उद्योग में अनुकरणीय और स्केलेबल होने की उच्च क्षमता के साथ, सिद्ध अवधारणा के साथ नए और अभिनव भविष्य के सर्कुलर समाधानों की पहचान करने के लिए अप्रयुक्त नवाचार अवसरों के पूल का लाभ उठाने के लिए एक टेक्सटाइल ग्रैंड इनोवेशन चैलेंज भी लॉन्च किया जाएगा।

भारत टेक्स में एक विशेष रूप से तैयार किया गया मंडप भारतीय वस्त्रों की कहानी को एक अखंड निरंतरता के रूप में अतीत से वर्तमान तक और भविष्य के रूप में बयान करता है।

इस आयोजन को कोच, टॉमी हिलफिगर, केल्विन क्लेन, वेरो मोडा, कोट्स, टोरे, एचएंडएम, गैप, टारगेट, लेविस, कोहल्स सहित शीर्ष वैश्विक प्रमुख कपड़ा कंपनियों से जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है और इन्‍होंने अपनी उपस्थिति की पुष्टि की है। इसके अलावा, अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, फ्रांस, स्पेन, स्वीडन, स्विट्जरलैंड, जर्मनी, नीदरलैंड और बहुपक्षीय संगठनों और वैश्विक कपड़ा संघों सहित प्रमुख कपड़ा केंद्रों के व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल भी इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज