AI News World India

Search
Close this search box.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और ब्रिटेन के रक्षा मंत्री ने लंदन में ब्रिटेन-भारत रक्षा उद्योग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गोलमेज सम्मेलन की सह-अध्यक्षता की

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने ब्रिटेन की अपनी यात्रा के दूसरे और अंतिम दिन 10 जनवरी, 2024 को लंदन स्थित ट्रिनिटी हाउस में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान ब्रिटेन के शीर्ष रक्षा उद्योग कारोबारियों तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ बातचीत की। श्री राजनाथ सिंह ने ब्रिटेन-भारत रक्षा उद्योग मुख्य कार्यकारी अधिकारी गोलमेज सम्मेलन की सह-अध्यक्षता अपने ब्रिटिश समकक्ष श्री ग्रांट शाप्स के साथ की, जिसमें बड़ी संख्या में ब्रिटेन के रक्षा उद्योग से आने वाले मुख्य कार्यकारी अधिकारियों; ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों; यूके इंडिया बिजनेस काउंसिल के अध्यक्ष तथा सीआईआई इंडिया के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। सम्मेलन में ब्रिटेन का प्रतिनिधित्व करने वाली कुछ प्रमुख कंपनियों में बीएई सिस्टम्स, जीई वर्नोवा, जेम्स फिशर डिफेंस, लियोनार्डो एस.पी.ए., मार्टिन बेकर एयरक्राफ्ट कंपनी लिमिटेड, एसएएबी यूके, थेल्स यूके, अल्ट्रा-मैरीटाइम रोल्स-रॉयस, एडीएस ग्रुप और एमबीडीए यूके शामिल थे।

इस बैठक में ब्रिटेन के रक्षा खरीद राज्य मंत्री श्री जेम्स कार्टिल्ज भी उपस्थित थे। गोलमेज सम्मेलन के दौरान भारत और ब्रिटेन के मध्य रक्षा औद्योगिक संबंधों को मजबूत बनाने पर भी विषयगत चर्चा की गई।

बैठक में रक्षा मंत्री ने ब्रिटेन से निवेश और प्रौद्योगिकी सहयोग मिलने का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि भारत कुशल मानव संसाधन आधार, एक सशक्त प्रत्यक्ष विदेशी निवेश सहयोगऔर व्यापार समर्थक पारिस्थितिकी तंत्र तथा एक विशाल घरेलू बाजार के साथ तत्पर है।

श्री राजनाथ सिंह ने इस बात पर बल दिया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व में भारत वर्ष 2047 तक एक विकसित अर्थव्यवस्था बनने की राह पर आगे बढ़ रहा है। इस महत्वाकांक्षा को आगे का रास्ता निर्धारित करने के लिए एक स्पष्ट नेतृत्व वाले रोडमैप द्वारा सहयोग प्रदान किया गया है और विकास के इस मार्ग पर बने रहने के उद्देश्य से 1.4 अरब भारतीयों की सामूहिक इच्छाशक्ति द्वारा समर्थन दिया गया है।

ainewsworld
Author: ainewsworld

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज